सारे जहाँ से अच्छा Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Lyrics in Hindi – 1904

Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara song lyrics in Hindi. The song was formally known as “Tarānah-e-Hindi” is an Urdu language patriotic song written by Muhammad Iqbal. Sare Jahan Se Achha song/poem was published in the weekly journal Ittehad on 16 August 1904.
Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Song Lyrics watch the video of this song below.
Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara is not on YouTube Trending. If the views talk, then these songs will get many Millions Views.

Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Song Detail

Song : Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Lyrics
Singer : Muhammad Iqbal

Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Lyrics in Hindi

You Want Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Song Lyrics and that too in Hindi ………… So we are providing you Lyrics.

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी ये गुलिस्तां हमारा
ग़ुर्बत में हों अगर हम, रहता है दिल वतन में
समझो वहीं हमें भी दिल है जहाँ हमारा

परबत वह सबसे ऊँचा, हम्साया आसमाँ का
वह संतरी हमारा, वह पासबाँ हमारा

गोदी में खेलती हैं इसकी हज़ारों नदियाँ
गुल्शन है जिनके दम से रश्क-ए-जनाँ हमारा

ऐ आब-ए-रूद-ए-गंगा! वह दिन हैं याद तुझको
उतरा तेरे किनारे जब कारवाँ हमारा

मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना
हिन्दी हैं हम, वतन है हिन्दोस्तां हमारा

यूनान-ओ-मिस्र-ओ-रूमा सब मिट गए जहाँ से
अब तक मगर है बाक़ी नाम-ओ-निशाँ हमारा

कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी
सदियों रहा है दुश्मन दौर-ए-ज़माँ हमारा

इक़्बाल! कोई महरम अपना नहीं जहाँ में
मालूम क्या किसी को दर्द-ए-निहाँ हमारा

More patriotic song
#Hind Desh Ke niwasi

Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Lyrics in English

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी ये गुलिस्तां हमारा
ग़ुर्बत में हों अगर हम, रहता है दिल वतन में
समझो वहीं हमें भी दिल है जहाँ हमारा

परबत वह सबसे ऊँचा, हम्साया आसमाँ का
वह संतरी हमारा, वह पासबाँ हमारा

गोदी में खेलती हैं इसकी हज़ारों नदियाँ
गुल्शन है जिनके दम से रश्क-ए-जनाँ हमारा

ऐ आब-ए-रूद-ए-गंगा! वह दिन हैं याद तुझको
उतरा तेरे किनारे जब कारवाँ हमारा

मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना
हिन्दी हैं हम, वतन है हिन्दोस्तां हमारा

यूनान-ओ-मिस्र-ओ-रूमा सब मिट गए जहाँ से
अब तक मगर है बाक़ी नाम-ओ-निशाँ हमारा

कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी
सदियों रहा है दुश्मन दौर-ए-ज़माँ हमारा

इक़्बाल! कोई महरम अपना नहीं जहाँ में
मालूम क्या किसी को दर्द-ए-निहाँ हमारा

Music Video of Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Song

A little request. Do you like Sare Jahan Se Achha Hindustan Humara Lyrics Hindi . So please share it. Because it will only take you a minute or so to share. But it will provide enthusiasm and courage for us. With the help of which we will continue to bring you lyrics of all new songs in the same way.

Leave a Comment