Phirse Wohi – Hansraj Raghuwanshi

फिर वही Phirse Wohi Song Lyrics Hindi 
YouTube पर Hansraj Raghuwanshi का नया गाना बड़ी आसानी से Phirse Wohi आ चुका है. इस गाने को Hansraj Raghuwanshi ने लिखा और Adamya Sharma ने म्यूजिक दिया है.

Phirse Wohi Song Lyrics Hindi में निचे दे रखा है तो आप वहा से लिरिक्स को पढ़े.

फिर वही YouTube Trending में नहीं है. अगर Views बात करे तो इस गानों को बहुत Millions Views मिलेंगे.

Song’s Details

Song: Phirse Wohi Lyrics
Singer: Hansraj Raghuwanshi
Lyrics: Hansraj Raghuwanshi
Music: Adamya Sharma
Label: Hansraj Raghuwanshi

Phirse Wohi Song Lyrics in MP3

Phirse Wohi Song Lyrics in Hindi

अगर आप फिर वही गाने के दीवाने है और अगर आपको Phirse Wohi Song Lyrics चाहिये और वो भी हिंदी में………… तो हम आपको Lyrics Provide करवा रहे है.

सन्नाटा ही सन्नाटा है
गलियों में है तन्हाई
सन्नाटा ही सन्नाटा है
गलियों में है तन्हाई

शहरों को छोड़ छाड़ के
आज गाँव की याद है आयी
शहरों को छोड़ छाड़ के
आज गाँव की याद है आई

फिरसे वही महका सा आंगन हो
जब चाहे उड़ जाए जब चाहे मुड़ जाए
जब चाहे उड़ जाए जब चाहे मुड़ जाए
अपने देश को

कुदरत को लूटा
मानुष को लूटा सफेद चोला ओढ़े
माल जमकेगा लंगोटा
मास मची जो मिला सब खा गए
मानव के भेष में बाबा देखो
दानव आ गए

नाम भगवान का पैसा अंदर किया
भ्रष्ट हर एक दर हर एक मंदिर किया
अब सजा पापों की जब है मिलने लगी
दुनिया थर थर डर से है हिलने लगी

होगी ना हमसे भूल सीख मिल गई है बाबा
होगी ना हमसे भूल सीख मिल गई है अब
हम बचे है तेरे भोले अब तो माफ करना
अब तो माफ कर

मैं फसा परदेश में
मेरी अम्मा बिटिया रोये
मैं फसा परदेश में
मेरी अम्मा बिटिया रोये

ऐसा भी क्या गुनाह किया रे
मानुस पिंजरे में रोये
भोले ऐसा भी क्या गुनाह किया रे
मानुस पिंजरे में रोये

थक गए सोये सोये निंदिया होए
थक गए सोये सोये निंदिया होए

फिरसे वही महका सा आंगन हो
जब चाहे उड़ जाए जब चाहे मुड़ जाए
जब चाहे उड़ जाए जब चाहे मुड़ जाए
अपने देश को

फिर से वही महका सा आंगन हो
फिर से वही महका सा आंगन�

More Songs You May LikeGandhi Money
Bombay to Punjab

Music Video of Phirse Wohi

Leave a Comment