Pareshaan Hindi Lyrics – Ishaqzaade

30

Pareshaan Hindi Lyrics - Ishaqzaade
Pareshaan Hindi Lyrics – Ishaqzaade

Singer Shalmali Kholgade
Music Amit Trivedi
Song Writer Kausar Munir

Pareshaan Hindi Lyrics 

   
नए-नए नैना मेरे ढूंढे हैं
दर-बदर क्यूँ तुझे
नए-नए मंज़र ये तकते हैं
इस कदर क्यूँ मुझे
ज़रा-ज़रा फूलों पे झड़ने लगा दिल मेरा
ज़रा-ज़रा काँटों से लगने लगा दिल मेरा
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
आतिशें वो कहाँ �♬.
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
रंजिशें हैं धुंआ �♬. हाँ..
गश खाके गलियाँ
मुड़ने लगी हैं मुड़ने लगी हैं
राहों से तेरी जुड़ने लगी हैं जुड़ने लगी हैं
चौबारे सारे ये मीलों के मारे से
पूछे हैं तेरा पता
ज़रा ज़रा चलने से थकने लगा दिल मेरा
ज़रा ज़रा उड़ने को करने लगा दिल मेरा
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
दिलकशी का समा �♬.
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
ख्वाहिसों का समा �♬.
बेबात खुद पे मरने लगी हूँ�♬. मरने लगी हूँ�♬.
बेबाक आहें भरने लगी हूँ�♬. भरने लगी हूँ�♬.
चाहत के छीटें हैं�♬. खारे भी मीठे हैं�♬.
मैं क्या से क्या हो गयी �♬.
ज़रा-ज़रा फितरत बदलने लगा दिल मेरा �♬.
ज़रा-ज़रा किस्मत से लड़ने लगा दिल मेरा �♬.
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
कैसी मदहोशियाँ �♬.
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
मस्तियाँ मस्तियाँ �♬.
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
आतिशें वो कहाँ �♬.
मैं परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬. परेशां�♬.
रंजिशें हैं धुंआ �♬. हाँ..

AA TO SAHI LYRICS (ENGLISH)

Naye-naye naina mere dhoonde hain
dar-badar kyun tujhe
naye-naye manzar yeh tak.te hain
iss kadar kyun mujhe
zara-zara phoolon pe jhadne laga dil mera
zara-zara kaanton se lagne laga dil mera
main pareshaan pareshan pareshaan pareshaan
aatishein woh kahaan
main pareshaan pareshan pareshaan pareshaan
ranjishein hain dhuaan haan..
gash khaake galiyaan
mudne lagi hain mudne lagi hain
raahon se teri judney lagi hain judney lagi hai
chaubaare saare yeh meelon ke maare se
poochhe hain tera pata
zara zara chalne se thakne laga dil mera
zara zara udne ko karne laga dil mera
main pareshaan pareshan pareshaan pareshaan
dilkashi ka samaa
main pareshaan pareshan pareshaan pareshaan
khwahison ka samaa
be-baat khud pe marne lagi hoon
marne lagi hoon
bebaak aahein bharne lagi hoon
bharne lagi hoon
chaahat ke cheete hai, khaare bhi meethe hai
main kya se kya ho gayi
zara-zara fitrat badalne laga dil mera
zara-zara kismat se ladne laga dil mera
main pareshaan pareshan pareshan pareshaan
kaisi madhoshiyaan�
main pareshaan pareshaan pareshaan pareshaan
mastiyaan mastiyaan�
main pareshaan pareshan pareshaan pareshaan
aatishein woh kahaan
main pareshaan pareshan pareshaan pareshaan
ranjishein hain dhuaan haan..