Mantoiyat Hindi lyrics
Mantoiyat Song Lyrics
Singer Raftaar,
Music Raftaar,
Lyric Raftaar, Saadat Hasan Manto,
Movie Manto,

Mantoiyat Song Lyrics को Hindi में सुनने के लिए नीचे बटन पर क्लिक करें.

Mantoiyat Lyrics in Hindi

रफ़्तार
सवाल ये है के जो चीज जैसी है
उससे वैसे ही पेश क्यों ना किया जाए
मैं तो अपनी कहानियों को एक आईना समझता हूँ
जिसमें समाज अपने आप को देख सके, देख सके

आईना ना देखना चाहे समाज मेरा
पूछे मेरा कल ना देखते ये आज मेरा
खोदते खारोदते ये मेरी गलतियाँ
मैं भी चल दिया
मेरी सोच पे है राज मेरा
कान बंद, आँखें बंद
इनके मुंह पे ताले
इनपे जोर ना के सत्य पे प्रकाश डालें
बोलें सच जो उसके चेहरे पे तेजाब डालें
घूमें फिर खुले में
और जले तो वो नकाब डालें

ओ ओ ऑफ है , दिमाग सबका ऑफ है
ज़माना क्या कहेगा इसका ही तो सबको खौफ है
दबके जीते हैं, दबाने के ये आदि हैं
स.. निषेध है तो इतनी क्यों आबादी है

लोग ये हैं आत्मा से खोखले
खुद करें तो ठीक, बाकी गलत दोगले
गाली दें तो हिंदी में
तो बोलें ऐसा क्यों किया
फ** क्यों है कूल जाने गलत क्यों है च**

क्या इस तरह के अल्फाज़ हमें सड़कों पे सुनाई नहीं पड़ते
मंटो एक इंसान है
मन.. मंटो एक इंसान है
मंटो एक इंसान है
मंटो एक इंसान है
मुझ पर इल्ज़ाम है
मुझ पर, मुझ पर
मुझ पर इल्ज़ाम है
मुझ पर इल्ज़ाम है
मंटो एक इंसान है

जात में ये बांटेते हैं
बांट के ये काटते हैं
कटने वाले खाट पे हैं
इनकी मौज रात में है
लाल बत्ती वाली गाड़ी
ग्लास इनके हाथ में है
राजनीती में है चोर
पुलिस इनके साथ में

मेरी बात तुमको सच नहीं लगती
सची बात तुमको यारा पच नहीं सकती
मुझसे ना समझ हैं दुगुनी मेरी ऐज के
एक पैर कब्र में ये भूखे हैं दहेज़ के

बेटियों को मारते, बेटियां ना पालते
लड़कियां पटके उनको बंदी बोलते हैं और
और जो राज़ी ना हो उनको साले र* बोलते हैं

बाबरों से माप ठोस हाथ जो उठाएगा
बे-जुबान बोलने से पहले सीख जायेगा
मर्द तब बनेगा जब तू औरतें दबाएगा
सोच ये रही तो जल्दी देश डूब जायेगा

मैं सोसाइटी की चोली क्या उतारूंगा जो पहले से ही नंगी है
उससे कपड़े पहनाना मेरा काम नहीं है
मैं काली तख्ती पर सफ़ेद चाक इस्तेमाल करता हूँ
ताकि काली तख्ती और नुमाया हो जाए
मंटो एक इंसान

मैं घंटों पढ़ा है तुमको मंटो
तुम्हारे जैसा बनू करे मेरा मन तो
इन बन्दों को सच नहीं दीखता
70 साल आजादी के सच आज भी नहीं बिकता

अगर आप कहानी को बर्दाश्त नहीं कर सकते
तो इसका मतलब ये है की ये ज़माना ही ना-काबिल-ए बर्दाश्त है

Lyrics of Mantoiyat in English

raftaar
savaal ye hai ke jo cheej jaisee hai
usase vaise hee pesh kyon na kiya jae
main to apanee kahaaniyon ko ek aaeena samajhata hoon
jisamen samaaj apane aap ko dekh sake, dekh sake

aaeena na dekhana chaahe samaaj mera
poochhe mera kal na dekhate ye aaj mera
khodate khaarodate ye meree galatiyaan
main bhee chal diya
meree soch pe hai raaj mera
kaan band, aankhen band
inake munh pe taale
inape jor na ke saty pe prakaash daalen
bolen sach jo usake chehare pe tejaab daalen
ghoomen phir khule mein
aur jale to vo nakaab daalen

o o oph hai , dimaag sabaka oph hai
zamaana kya kahega isaka hee to sabako khauph hai
dabake jeete hain, dabaane ke ye aadi hain
sa.. nishedh hai to itanee kyon aabaadee hai

log ye hain aatma se khokhale
khud karen to theek, baakee galat dogale
gaalee den to hindee mein
to bolen aisa kyon kiya
ph** kyon hai kool jaane galat kyon hai ch**

kya is tarah ke alphaaz hamen sadakon pe sunaee nahin padate
manto ek insaan hai
man.. manto ek insaan hai
manto ek insaan hai
manto ek insaan hai
mujh par ilzaam hai
mujh par, mujh par
mujh par ilzaam hai
mujh par ilzaam hai
manto ek insaan hai

jaat mein ye baantete hain
baant ke ye kaatate hain
katane vaale khaat pe hain
inakee mauj raat mein hai
laal battee vaalee gaadee
glaas inake haath mein hai
raajaneetee mein hai chor
pulis inake saath mein

meree baat tumako sach nahin lagatee
sachee baat tumako yaara pach nahin sakatee
mujhase na samajh hain dugunee meree aij ke
ek pair kabr mein ye bhookhe hain dahez ke

betiyon ko maarate, betiyaan na paalate
ladakiyaan patake unako bandee bolate hain aur
aur jo raazee na ho unako saale ra* bolate hain

baabaron se maap thos haath jo uthaega
be-jubaan bolane se pahale seekh jaayega
mard tab banega jab too auraten dabaega
soch ye rahee to jaldee desh doob jaayega

main sosaitee kee cholee kya utaaroonga jo pahale se hee nangee hai
usase kapade pahanaana mera kaam nahin hai
main kaalee takhtee par safed chaak istemaal karata hoon
taaki kaalee takhtee aur numaaya ho jae
manto ek insaan

main ghanton padha hai tumako manto
tumhaare jaisa banoo kare mera man to
in bandon ko sach nahin deekhata
70 saal aajaadee ke sach aaj bhee nahin bikata

agar aap kahaanee ko bardaasht nahin kar sakate
to isaka matalab ye hai kee ye zamaana hee na-kaabil-e bardaasht hai

Mantoiyat Song Detail

  • Song Title: Mantoiyat Lyrics
  • Movie: Manto
  • Singer: Raftaar
  • Music: Raftaar
  • Lyrics: Raftaar, Saadat Hasan Manto
  • Additional Vocals: Nawazuddin Siddiqui
  • Music Label: Zee Music Company

3 COMMENTS

  1. […] More Songs of Raftaar, Krsna #Aage Chal #Mantoiyat […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here